सुप्रसिद्ध मासिक पत्रिका हंस के मई 2011 अंक में असुविधा, कथाकार, मत मतांतर, विचारार्थ, संचिका, मृत्युंजय, जनपक्ष, चोखेर बाली का उद्धरण देते हुए ब्लॉगों की विभिन्न गतिविधियों पर आधारित लेख